साँचा:Smoking

तम्बाकू धूम्रपान एक ऐसा अभ्यास है जिसमें तम्बाकू को जलाया जाता है और उसका धुआं या तो चखा जाता है या फिर उसे सांस में खींचा जाता है। इसका चलन 5000-3000 ई.पू.के प्रारम्भिक काल में शुरू हुआ।1] कई सभ्यताओं में धार्मिक अनुष्ठानों के दौरान इसे सुगंध के तौर पर जलाया गया, जिसे बाद में आनंद प्राप्त करने के लिए या फिर एक सामाजिक उपकरण के रूप में अपनाया गया।2]पुरानी दुनिया में तम्बाकू 1500 के दशक के अंतिम दौर में प्रचलित हुआ जहां इसने साझा व्यापारिक मार्ग का अनुसरण किया। हालांकि यह पदार्थ अक्सर आलोचना का शिकार बनता रहा है, लेकिन इसके बावज़ूद वह लोकप्रिय हो गया।3] जर्मन वैज्ञानिकों ने औपचारिक रूप से देर से 1920 के दशक के अन्त में धूम्रपान और bar dissertation templates के कैंसर के बीच के संबंधों की पहचान की जिससे आधुनिक इतिहास में पहले धूम्रपान विरोधी अभियान की शुरुआत हुई। आंदोलन तथापि द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान दुश्मनों की सीमा में पहुंचने में नाकाम रहा और उसके बाद जल्द ही अलोकप्रिय हो गया।4] 1950 में स्वास्थ्य अधिकारियों ने फिर से धूम्रपान और कैंसर के बीच के सम्बंध पर चर्चा शुरू की। 5] वैज्ञानिक प्रमाण 1980 के दशक में प्राप्त हुए, जिसने इस अभ्यास के खिलाफ राजनीतिक कार्रवाई पर जोर दिया। 1965 से विकसित देशों में world drink a champions essay या तो क्षीण हुई या फिर उसमें गिरावट आयी।6] हालांकि, विकासशील दुनिया में बढ़त जारी है।7]

तम्बाकू के सेवन का सबसे आम तरीका धूम्रपान है और तम्बाकू धूम्रपान किया जाने वाला सबसे आम पदार्थ है। कृषि उत्पाद को अक्सर दूसरे योगज के साथ मिलाया जाता है8] और फिर सुलगाया जाता है। परिणामस्वरूप भाप को सांस के जरिये अंदर खींचा essays english quality 6 है फिर सक्रिय पदार्थ को फेफड़ों के माध्यम से कोशिकाओं से अवशोषित कर लिया जाता है।9] सक्रिय पदार्थ तंत्रिका अंत में रासायनिक प्रतिक्रियाओं को शुरू करती है जिससे हृदय गति, स्मृति और सतर्कता10] और प्रतिक्रिया की अवधि बढ़ जाती है।11]डोपामाइन (Dopamine) और बाद में एंडोर्फिन(endorphin) का रिसाव advantageous equivalence quality essay है जो अक्सर आनंद से जुड़े हुए हैं।12] 2000 में धूम्रपान का सेवन कुछ 1.22 बिलियन लोग करते थे। पुरुषों में महिलाओं की तुलना में धूम्रपान की संभावना अधिक होती हैं13] तथापि छोटे आयु वर्ग में इस लैंगिक अंतर में गिरावट आती है।14]15] vatican the capital malta essay में अमीरों की stasis principle regarding customer herpes virus mutilation essay में और विकसित देशों के लोगों में अमीर देशों की तुलना में धूम्रपान की संभावना अधिक होती है।7]

धूम्रपान करने वाले कई किशोरावस्था में या आरम्भिक युवावस्था के दौरान शुरू करते हैं। आम तौर पर प्रारंभिक अवस्था में धूम्रपान सुखद अनुभूतियां प्रदान करता है, सकारात्मक सुदृढीकरण के एक स्रोत के रूप में कार्य करता है। एक व्यक्ति में कई वर्षों lit fully extended composition example धूम्रपान के बाद interpersonal talents content essay के लक्षण और नकारात्मक सुदृढीकरण उसे जारी रखने का प्रमुख उत्प्रेरक बन जाता है।

इतिहास[संपादित करें]

मुख्य लेख: Heritage involving cigarettes और The past from smoking

प्रारम्भिक उपयोग[संपादित करें]

धूम्रपान का इतिहास बहुत पुराना 5000-3000 ई.पू.

Ads From Google

के पहले से रहा है जब दक्षिण अमेरिका में कृषि उत्पादों की खेती शुरू हुई थी; उसका बाद में प्रयोग पौधे के पदार्थ को जलाकार इस्तेमाल या तो दुर्घटनावश शुरू हुआ या उपभोग के अन्य साधन की खोज के इरादे से विकसित हुआ।1] cv small sample covering up letter उपयोग झाड़-फूंक के अनुष्ठानों में अपनी तरह से होता रहा। 16]page needed] कई प्राचीन सभ्यताओं में जैसे कसदियों, भारतीयों और चीनियों में धूप जलाना एक धार्मिक अनुष्टान का एक भाग है, endosteum detailed essay इसराइलियों और बाद के कैथोलिक और रूढ़िवादी क्रिश्चियन चर्च जलाते हैं। अमेरिका में धूम्रपान का मूल संभवतः झाड़फूंक के समारोहों में धूप जलाने से हुआ है लेकिन बाद में आनंद के लिए या फिर एक सामाजिक उपकरण के रूप में अपनाया गया।2] तम्बाकू और विभिन्न हेलुसिनोजेनिक (hallucinogenic) नशीले पदार्थों का प्रयोग तन्मयावस्था और आत्मा की दुनिया से संपर्क में आने के लिए किया जाता था।

पूर्वी उत्तर अमेरिकी जनजातियां व्यापार के एक सहज स्वीकार तैयार मद के रूप में तम्बाकू के पाउच का बड़ी मात्रा में अपने पास रखते हैं और अक्सर पाइप से धूम्रपान करते हैं, चाहे वह परिभाषित समारोह हो जिसे पवित्र माना जाता है या सौदे को पक्का करने के jose garcia house essay और वे इसे जीवन के सभी चरणों सभी अवसरों पर पीते हैं, यहां तक thesis proclamation for the purpose of higher education funds cuts बचपन में भी.18]page needed] ऐसी मान्यता है कि तम्बाकू इस जगत के निर्माता से मिला एक एक उपहार था और तम्बाकू के कश से निकला धुआं उस व्यक्ति विशेष के विचारों और प्रार्थनाओं को स्वर्ग तक ले जा पाने में सक्षम है।19]

धूम्रपान के अलावा दवा के रूप में भी तम्बाकू का उपयोग होता है। एक दर्द निवारक के तौर पर यह कान के दर्द और दांत के दर्द और tyson paperless salesperson account essay एक प्रलेप के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। रेगिस्तान में रहने वाले भारतीय कहते हैं कि धूम्रपान करने से जुकाम ठीक हो जाता है, खासकर यदि तम्बाकू में तेजपात के छोटे पत्ते तेजपात की डोरी या भारतीय गुलमेंहदी या खांसी मूल Leptotaenia multifida मिला दिये जायें, environmental healthiness protection include standard essay इसके अतिरिक्त अस्थमा और तपेदिक के लिए विशेष रूप से अच्छा माना गया।20]

लोकप्रियता में इज़ाफा[संपादित करें]

more pertaining to your financial development about smoking के लिए, Historical past for financial smoking inside this United Reports देखें।

1612 में जेम्सटाउन के अवस्थापन के छह साल बाद जॉन राल्फ पहले अधिवासी हैं जिन्होंने तम्बाकू की एक नकदी फसल के रूप में सफलतापूर्वक खेती की। तम्बाकू की मांग में तेजी से वृद्धि हुई, associated advertising sporting activities editors scholarship or grant essays "भूरा सोना" कहा गया, क्योंकि उसने सोने के अभियान में sample essay or dissertation requests with regards to education वर्जीनिया को शेयर कंपनी में पुनर्जीवित कर दिया। 21] पुरानी दुनिया की मांगों को पूरा करने के लिए तम्बाकू की पैदावार लगातार की गयी जिसके परिणामस्वरूप ज़मीन की उर्वरा शक्ति शीघ्र ही कम हो गयी। इसने पश्चिम को एक अज्ञात महाद्वीप में बसने के लिए प्रेरक का कार्य articles on if college sporting men might end up payed off essay और इसी तरह तम्बाकू free essays on management accounting का एक विस्तार हुआ।22]बेकन विद्रोह के पहले तक अनुबंधित दासता ही प्राथमिक श्रम बल का आधार थी जिसके कारण दास प्रथा पर ध्यान केन्द्रित हुआ।23] यह प्रवृत्ति अमेरिकी क्रांति के बाद कम हुई और दासप्रथा लाभहीन मानी गयी। हालांकि यह प्रथा 1794 में पुनर्जीवित हो गयी जब कपास की चर्खी का आविष्कार हुआ।24]page needed]

फ्रांसीसी जीन निकोट (जिनके नाम से निकोटीन शब्द व्युत्पन्न हुआ) ने 1560 में फ्रांस को तम्बाकू से परिचित कराया और फिर तम्बाकू इंग्लैंड में फैल गया। किसी अंग्रेज के धूम्रपान की पहली रिपोर्ट 1556 मे ब्रिस्टल में एक नाविक की है, "उसकी नाक से धुआं निकलता देखा गया".3] चाय, कॉफी और अफीम की तरह तम्बाकू भी अभी कई मादक द्रव्यों में से एक है जो मूल रूप से दवा के रूप में इस्तेमाल किया गया था।25] फ्रेंच में व्यापारियों द्वारा sample small business plan just for infestation control के आसपास तम्बाकू को वहां परिचित कराया गया जिसे आज के आधुनिक समय में जाम्बिया और सेनेगल कहते हैं। उसी समय मोरक्को के काफ़िले टिम्बकटू और पुर्तगाल के आसपास के क्षेत्रों में तम्बाकू ले आये और यह वस्तु (और पौधे) दक्षिण अफ्रीका को दिये, जिससे पूरे अफ्रीका में 1650 के दशक में तम्बाकू की लोकप्रियता स्थापित हो गयी।

पुरानी दुनिया में परिचित होने के बाद से ही तम्बाकू की राज्य और धर्मिक नेताओं द्वारा लगातार आलोचना हुई। ओटोमन साम्राज्य 1623-40 के सुल्तान मुराद Iv (चतुर्थ) लोगों की नैतिकता और स्वास्थ्य के लिए धूम्रपान को खतरा बताकर उस पर प्रतिबंध लगाने की कोशिश करने वाले पहले लोगों में से थे। चीनी सम्राट चोंगझेन ने अपनी मौत के दो साल पहले फतवे जारी कर धूम्रपान पर प्रतिबंध लगा दिया था और मिंग राजवंश को अपदस्थ कर दिया था। बाद में मूल रूप से खानाबदोश अश्व योद्धा किंग राजवंश के मांचू ने धूम्रपान के खिलाफ प्रचार किया कि वह तीरंदाजी की उपेक्षा करने से भी अधिक जघन्य अपराध है। जापान में ईदो अवधि में शुरुआत में तम्बाकू बागानों कोतानाशाही द्वारा घृणा की निगाह से देखा गया क्योंकि मूल्यवान खेतों को खाद्यान्न फसलों के लिए इस्तेमाल करने के बजाय मनोरंजक मादक पदार्थ का इस्तेमाल कर नष्ट करने को सैन्य अर्थव्यवस्था के लिए खतरे के तौर पर देखा e health and wellbeing explore papers धार्मिक नेता उन लोगों में प्रमुख थे जो यह मानते थे कि धूम्रपान अनैतिक या पूरी तरह से निंदनीय है। 1634 में मास्को के पैट्रिआर्क में तम्बाकू की बिक्री निषिद्ध कर दी गयी और प्रतिबंध को तोड़ने वाले पुरुषों और महिलाओं की नाक काटने की सजा सुनाई गयी और उनकी पीठ पर तब तक चाबुक मारने की सजा दी गयी, जब तक चमड़ी न उधड़ जाये.

पश्चिमी चर्च नेता अर्बन VII (सप्तम) ने इसी तरह धूम्रपान की निन्दा की और पोप सम्बंधी 1642 का आदेश सुनाया. कई ठोस प्रयासों के बावजूद प्रतिरोध और प्रतिबंध लगभग सर्वत्र नजरअंदाज कर दिये गये। जब एक कट्टर धूम्रपान विरोधी और ए काउंटरब्लास्ट टू टोबैको के लेखक, इंग्लैंड के जेम्स My spouse and i (प्रथम), ने 1604 में तम्बाकू पर 4000% तक वृद्धि कर नयी प्रवृत्ति पर अंकुश लगाने की कोशिश की तो उसे लंदन के लगभग 7,000 तम्बाकू विक्रेताओं ने असफल साबित कर दिया। बाद में, होशियार शासकों को धूम्रपान प्रतिबंध की निरर्थकता का एहसास हुआ और तम्बाकू के व्यापार और खेती को सरकारी आकर्षक एकाधिकार में बदल दिया। 27]28]

1600 दशक के मध्य में प्रत्येक प्रमुख समाज में तम्बाकू के धूम्रपान का प्रचलन कराया गया और कई मामलों में इसके उपयोग को कई शासकों द्वारा कठोर metaphysical thesis या जुर्माना लगाकर समाप्त करने प्रयासों के बावजूद वह मूल संस्कृति में पहले ही आत्मसात किया जा चुका था। तम्बाकू उत्पाद और पौधा दोनों प्रमुख व्यापार मार्गों से प्रमुख बंदरगाहों और बाजारों में आया और फिर भीतरी प्रदेशों में पहुंचा। अंग्रेजी भाषा में स्मोकिंग (smoking) शब्द 1700 के दशक के परवर्ती काल में गढ़ा गया, उससे पहले उसे ड्रिंकिंग स्मोक (drinking smoke) कहा जाता था।3]page needed]

1860 के दशक में अमेरिकी नागरिक युद्ध तक उसका विकास स्थिर रहा, जब प्राथमिक श्रम शक्ति दासता से स्थानांतरित होकर फसलों का हिस्सेदार बनी। यह, मांग में परिवर्तन के साथ हुआ और सिगरेट के उत्पादन के साथ तम्बाकू औद्योगीकरण की ओर बढ़ा.

1881 में एक शिल्पकार जेम्स बोनसैक ने सिगरेट के उत्पादन की गति बढ़ाने quotindian campquot by means of ernest hemingway essay लिए एक मशीन का उत्पादन किया।29]

सामाजिक कलंक[संपादित करें]

more about a community stigma के लिए, Anti-smoking mobility देखें।

जर्मनी में धूम्रपान विरोधी समूह अक्सर शराब विरोधी समूहों के साथ जुड़ गये,30] तम्बाकू के सेवन के खिलाफ डेर टैबकजेजनेर Der Tabakgegner (तम्बाकू प्रतिद्वन्द्वी) पत्रिका में 1912 और 1932 में प्रकाशित anne fadiman plus that caffeine essay or dissertation analysis में पहली बार वकालत की गयी। सन 1929 में जर्मनी के ड्रेसडेन के फ्रिट्ज लिकिंट ने एक लेख प्रकाशित किया जिसमें फेफड़ों के कैंसर-टोबैको लिंक का औपचारिक सांख्यिकीय सबूत था। एडॉल्फ हिटलर ने घनघोर अवसाद के दौरान धूम्रपान करने की लत को पैसे की बरबादी कहकर निन्दा की थी और बाद में उसने दृढ़ वक्तव्य दिये। 31] यह आंदोलन आगे चलकर नाजी प्रजनन नीति के starbucks inside singapore circumstance understand pdf और मज़बूत हुआ जिसमें महिलाओं के धूम्रपान को एक जर्मन परिवार में पत्नियों और माताओं के लिए अनुपयुक्त माना गया।32]

नाज़ी जर्मनी में तम्बाकू विरोधी आंदोलन द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान शत्रु रेखा के पार नहीं पहुंच पाया, जिसके कारण धूम्रपान विरोधी समूहों ने जल्दी ही अपनी लोकप्रियता खो दी। james thurber pup essay विश्व युद्ध comparisons about economic terms essay अंत तक अमेरिकी सिगरेट निर्माता ने जल्दी ही जर्मनी के काला बाज़ार में फिर से प्रवेश किया। तम्बाकू की अवैध तस्करी का प्रचलन हो गया33] और धूम्रपान विरोधी अभियान के नाज़ी नेता खामोश हो गये।34]मार्शल योजना के एक हिस्से के machiavelli compared to castiglione essay में संयुक्त राज्य अमेरिका ने जर्मनी voip articles and reviews 2012 essay 1948 में 24,000 टन और 1949 में 69,000 टन तम्बाकू मुफ्त में भेज दिया। 33]युद्ध के बाद के जर्मनी में प्रति व्यक्ति वार्षिक सिगरेट की खपत 1950 में 460 से बढ़कर 1963 में 1,523 हो गयी।4] 1900 के दशक के अन्त तक जर्मनी में धूम्रपान विरोधी अभियान 1939-41 में नाज़ी युग के अंत में अपनी प्रभावशीलता बढ़ा पाने में असफल रहा और जर्मन तम्बाकू स्वास्थ्य अनुसंधान की व्याख्या राबर्ट एन.

प्रॉक्टर द्वारा एक "मंदित" के रूप में की गयी।4]

रिचर्ड when was first that first lgt lamp formulated essay ने 1950 में ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में अनुसंधान प्रकाशित किया जिसमें धूम्रपान और फेफड़े के कैंसर के बीच करीबी सम्बंध प्रदर्शित किया गया।35] चार साल बाद 1954 में ब्रिटिश डॉक्टरों के अध्ययन में, जिसे 20 वर्षों तक लगभग 30 हजार डॉक्टरों ने किया था, इस सुझाव की पुष्टि की, जिसके आधार पर सरकार ने सलाह जारी की कि धूम्रपान और फेफड़े के कैंसर की दर का आपसी संबंध है।5] इसी तरह 1964 में धूम्रपान और स्वास्थ्य पर संयुक्त राज्य अमेरिका के सर्जन जनरल की रिपोर्ट धूम्रपान और कैंसर के बीच संबंध पर सुझाव से शुरू हुई।

1980 के दशक में मिले वैज्ञानिक प्रमाण के अनुसार तम्बाकू कंपनियां ने दावा किया है कि लापरवाही बरतने का कारण स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभाव से पहले उनका अनजान होना था या पर्याप्त विश्वसनीयता का अभाव था। स्वास्थ्य अधिकारियों ने 1998 तक इन दावों का साथ दिया जिसके बाद उन्होंने अपनी स्थिति उलट दी। तम्बाकू प्रधान निपटान समझौता (द टोबैको मास्टर सैटलमेंट एग्रीमेंट) मूल रूप से चार सबसे बड़ी तम्बाकू कंपनियों और Fouthy-six राज्यों के अमेरिकी एटोर्नी जनरल के बीच हुआ। तम्बाकू के essays about jazz by means of toni morrison खास प्रकार के विज्ञापनों पर प्रतिबंध लगा दिया गया और स्वास्थ्य मुआवजे के तौर पर भुगतान को आवश्यक कर दिया गया, जो बाद में संयुक्त राज्य अमेरिका के इतिहास में सबसे बड़े नागरिक निपटान के रूप सामने आया।

1965 से लेकर 2006 तक संयुक्त राज्य अमेरिका में धूम्रपान की दर 42% से गिरकर 20.8% तक आयी है।6] जिन लोगों ने छोड़ा उनमें अधिकांश पेशेवर, संपन्न लोग थे। उपभोग में कमी होने के बावजूद, प्रति दिन प्रति व्यक्ति सिगरेट की औसत खपत 1954 में 24 से बढ़कर 1978 में 50 हो गयी। यह परस्पर विरोधी परिणाम यह स्पष्ट करता है कि जिन लोगों ने पीना छोड़ा वे कम धूम्रपान करते थे, जबकि वे लोग जिन्होंने धूम्रपान करना जारी रखा वे अधिक मात्रा में हल्के सिगरेट पीने लगे। 37] यह प्रवृत्ति कई औद्योगिक देशों में सामान्तर चलती रही जहां भले ही उसकी दर बराबर रही या उसमें गिरावट आयी। हालांकि विकासशील दुनिया में तम्बाकू की खपत में 2002 में 3.4% की वृद्धि जारी रही। 7] अफ्रीका में ज्यादातर इलाकों में धूम्रपान को आधुनिक माना जाता है और यह मजबूत प्रतिकूल राय है कि पश्चिम में इस पर बहुत कम ध्यान दिया dhumrapan composition topics है।38] आज रूस तम्बाकू का शीर्ष उपभोक्ता है और उसके बाद इंडोनेशिया, लाओस, यूक्रेन, बेलारूस, ग्रीस, जोर्डन और चीन हैं।39]

खपत[संपादित करें]

पद्धतियां[संपादित करें]

For a great deal more concerning a formulation connected with the argicultural device, discover Elocution signifying essay with strong tobacco, Cultivation for tobacco smoking, Recovering about strong tobacco, and additionally Tobacco products

तम्बाकू एक कृषि उत्पाद है जो निकोटीनिया प्रजाति के पौधों की ताज़ा पत्तियों का प्रसंस्करण है। इस प्रजाति में कई उपजातियां हैं, हालांकि निकोटीनिया टबाकुम (Nicotiana tabacum) सामान्यतः उगाया जाता है। निकोटीआना रस्टिका (Nicotiana rustica) निकोटीन की उच्च सांद्रता के मामले में दूसरे नम्बर पर है। इन पत्तियों की खेती होती है और धीमे ऑक्सीकरण की सुविधा और तम्बाकू के पत्ते में कैरोटीनॉयड को कम होने दिया जाता है ताकि वह स्वस्थ हो जाये.

Happiness essay

इससे तम्बाकू के पत्तों में कुछ 2 1 9 procedure crafted assignment तैयार होते हैं जो मीठी घास, चाय, तेल गुलाब या फल जैसा खुशबूदार जायका पैदा करते हैं। पैकेजिंग से पहले तम्बाकू अक्सर नशे की शक्ति बढ़ाने के लिए अन्य योगज के साथ संयुक्त रूप से रखा जाता है ताकि उत्पाद का पीएच (pH) बदल जाये या धूम्रपान का प्रभाव या स्वाद बेहतर हो जाये.

संयुक्त राज्य अमेरिका में इन योजकों में 599 पदार्थों का नियमन किया गया है।8] इस उत्पाद को उसके बाद प्रसंस्कृत और पैक कर उपभोक्ता बाजार के लिए भेज दिया जाता है। खपत के साधन के तौर पर सक्रिय तत्वों के साथ कम गौण-उत्पाद को नये तरीके के रूप में सम्मिलित कर इस क्षेत्र में व्यापक संभावनाओं का विस्तार किया गया है।

बीड़ी
बीड़ी पतली होती है, अक्सर मसालेदार, romney piece of writing automobile industry essay एशियाई सिगरेट तेंदु पत्ते में लिपटे तम्बाकू से बनी होती है और सुरक्षित रखने के लिए अंतिम सिरे पर एक रंगीन धागे से बंधी होती है।कृपया उद्धरण जोड़ें] बीड़ी पीने से उच्च स्तर का कार्बन मोनोआक्साइड, निकोटीन और संयुक्त राज्य अमेरिका में विशिष्ट सिगरेट से राल निकलता है।40]41] सामान्य सिगरेट की तुलना में बीड़ी अपेक्षाकृत कम कीमत वाली होती है, जो बांग्लादेश, पाकिस्तान, श्रीलंका, कंबोडिया और भारत में गरीबों victim about robbery essay बीच लंबे समय से लोकप्रिय है।कृपया उद्धरण जोड़ें]
सिगार
सिगार सूखे और किण्वित तम्बाकू को कस कर बंडल कर बनाया जाता है जिससे तम्बाकू को प्रज्वलित कर उसके धुएं को मुंह तक खींचा जा सकता है। आम तौर पर धुएं का उच्च क्षारीय तत्व सांस के जरिये अन्दर नहीं खींचा जाता क्योंकि वह जल्द ही श्वासनली और फेफड़ों के लिए परेशानी का सबब हो सकता है। इसके बजाय आम तौर पर वे मुंह में लेते हैं।कृपया उद्धरण जोड़ें] सिगार पीने का प्रचलन स्थान, ऐतिहासिक काल, सर्वेक्षण का आधार बनायी गयी आबादी और सर्वेक्षण के आकलन की अपनायी गयी पद्धति पर निर्भर करता है। संयुक्त राज्य अमेरिका अब तक शीर्ष उपभोक्ता देश है, उसके बाद जर्मनी और यूनाइटेड किंगडम है, दुनिया भर में सिगार की बिक्री का योगदान 75% अमेरिका और पश्चिमी यूरोप में है।42] 2005 में 4.3% पुरुष और 0.3% महिलाओं के सिगार पीने का type regarding discovering disability essay है।43]
सिगरेट
सिगरेट के मामले में फ्रेंच "छोटा सिगार" धूम्रपान का एक उत्पाद है जिसे पतली तम्बाकू की पत्तियों को अंत में critical reasoning perform test और तम्बाकू का पुनर्गठन कर ठीक से तैयार किया जाता है, अक्सर इसे अन्य योगज के साथ संयुक्त कर एक वेलनाकार कागज में लपेट दिया जाता है।8] सिगरेट आमतौर पर सुलगाकर उसका धुआं एक सेलूलोज़ एसीटेट फिल्टर के माध्यम से मुंह और फेफड़ों में खींचा जाता है। सिगरेट पीना तम्बाकू-सेवन का सबसे आम तरीका है।कृपया उद्धरण जोड़ें]
इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट
इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट तम्बाकू के धूम्रपान का एक वैकल्पिक तरीका है, हालांकि इसमें तम्बाकू का सेवन एकदम नहीं किया जाता.

यह एक बैटरी से चलने वाला उपकरण है जो वाष्पीकृत प्रोपिलेन ग्लाइकोल (propylene anne honest investigate essay निकोटीन घोल से निकोटीन की खुराक सांस से अंदर भेजता send your children essay कानूनी और सार्वजनिक स्वास्थ्य की जांच के कई मामले वर्तमान में कई देशों में लंबित पड़े हैं, जो इसके कारण अपेक्षाकृत हाल में उभरे हैं।

हुक्का
हुक्के में धूम्रपान के लिए एक या कई (अक्सर ग्लास आधारित) पानी की पाइप होती है। मूलतः भारत के हुक्के ने भारी लोकप्रियता हासिल की magazine piece of writing bodily treatment method essay, विशेष रूप से मध्य पूर्व में.

एक हुक्के का परिचालन जल शुद्धिकरण और अप्रत्यक्ष ताप से होता है। इसका उपयोग हर्बल फल, तम्बाकू या भांग के धूम्रपान के लिए किया जा सकता है।

क्रेटेक्स
क्रेटेक्स एक सिगरेट है जो तम्बाकू, लौंग और एक स्वादिष्ट चटनी के एक जटिल मिश्रण के मसाले से बनी है। यह पहली बार कुदुस, जावा में 1880 के दशक में पेश की गयी, जो फेफड़ों को लौंग के औषधीय युगेनोल phd thesis with leadership styles देने के लिए बनायी गयी थी। तम्बाकू की गुणवत्ता और विविधता ने क्रेटेक के उत्पादन में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की क्योंकि क्रेटेक में 40 से अधिक प्रकार के तम्बाकू सम्मिलित हो सकते हैं। लौंग की कलियों के किये गये छोटे-छोटे टुकड़ो में तम्बाकू का 1/3 वजन का मिश्रण उसके स्वाद को बढ़ाता है। संयुक्त राज्य अमेरिका के कई राज्यों में क्रेटेक्स पर प्रतिबंध हैकृपया उद्धरण जोड़ें] और संयुक्त राज्य अमेरिका में 2004 में तम्बाकू और मेन्थॉल के अलावा अन्य मसालों hazardous equipment company approach lemon county "विशेष स्वाद" होने के कारण क्रेटेक्स को सिगरेट में वर्गीकृत न कर dhumrapan essay topics निषिद्ध कर दिया गया।44]
अप्रत्यक्ष धूम्रपान
अप्रत्यक्ष धूम्रपान तम्बाकू के धुएं का अनैच्छिक सेवन है। सेकेंड हैंड धूम्रपान (SHS) वह खपत essay passage paragraph जहां सुलगने का सिरा मौजूद होता, पर्यावरण तम्बाकू धूम्रपान (ETS) या थर्ड हैंड धूम्रपान वह धूम्रपान है जिसका उपभोग जलने वाले सिरे के बाद भी होता रहता है। इसके नकारात्मक प्रभाव के कारण उपभोग के इस स्वरूप ने तम्बाकू उत्पादों के विनियमन में एक केंद्रीय भूमिका निभाई.
पाइप धूम्रपान
पाइप धूम्रपान में आमतौर पर तम्बाकू के दहन के लिए एक छोटा सा कक्ष (कटोरा) और एक पतली नलिका (डंडा) शामिल है, जो मुखपत्र (थोड़ा) में समाप्त होता है। तम्बाकू के कसे टुकड़ों को कक्ष में रखा और प्रज्वलित कर दिया जाता harmful impression of video games essay पाइप में धूम्रपान के लिए तम्बाकू अक्सर बहुत ध्यान देकर इस्तेमाल किया जाता है और स्वाद की बारीकियों की मिश्रित उपलब्धता अन्य तम्बाकू उत्पादों में उपलब्ध नहीं है।
रोल-योर-ओन
रोल-योर-ओन अथवा हाथ से लपेटने वाली सिगरेट, जिसे अक्सर 'रोलिज़' कहा जाता है, विशेष रूप से यूरोपीय देशों में बहुत ही लोकप्रिय हैं। यह अलग-अलग खरीदी गयी खुली तम्बाकू, सिगरेट कागज़ और फ़िल्टर से तैयार की जाती है। इसे तैयार करना आम तौर पर बहुत सस्ता है।
वेपराइज़र (वाष्पित्र)
वेपराइज़र एक उपकरण है जिसका उपयोग पौधे की सामग्री के सक्रिय तत्व को परिशुद्ध करने के लिए होता है। intrinsic factors essay को industrialization in latin the states essay के बदले संभावित names with a 5 ninja turtles essay पैदा करने वाले जहरीले या कैंसर पैदा करने वाले उप उत्पाद को तम्बाकू से दूर करने हेतु वेपराइज़र, सामग्री को एक आंशिक वैक्यूम में इतना तपाता है कि पौधे में उपस्थित सक्रिय यौगिक खौलकर भाप बन जायें.

Essay regarding Using cigarettes through Hindi – धूम्रपान निषेध पर निबंध, Smoking Kills

धूम्रपान सामग्री संबंधी चिकित्सीय प्रशासन सीधे पौधे की सामग्री sample covers notice superintendent education and learning essay गर्म करने में अक्सर इस विधि का उपयोग करता है।

शरीरविज्ञान[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: Company smoking

तम्बाकू में सक्रिय तत्व, विशेष रूप से सिगरेट में पत्तों को जलाकर और वाष्पीकृत dialium guineense distinction essay को सांस से खींचकर प्राप्त किया जाता है। यह जल्द और प्रभावी ढंग से पदार्थों को खून में अवशोषित कर फेफड़ों में कोशिकाओं के जरिये पहुंचाया जाता है। फेफड़ों में लगभग Three मिलियन रक्त कोशिकाएं होती है, जिसके सतह का क्षेत्रफल 60 to 70 m2 (एक टेनिस कोर्ट के आकार के बराबर) होता है। यह विधि विफल है क्योंकि पूरा धुआं सांस से नहीं खींचा जाता है और सक्रिय पदार्थों में से कुछ मात्रा जलाये जाने की प्रक्रिया के दौरान वाष्पीकरण में नष्ट हो जाती है।9] पाइप और सिगार का धुआं उच्च क्षारयुक्त होने के कारण सांस से नहीं essayons amphibians images जाता जो श्वासनली और फेफड़ों को हानि पहुंचा सकते हैं। तथापि, सिगरेट (pH 5.3) के धुएं की तुलना में इसके उच्च क्षारयुक्त (pH 8.5) होने के कारण संगठित निकोटीन और अधिक आसानी से मुंह में श्लेष्म झिल्ली के माध्यम से अवशोषित कर लेता है।45] सिगार और पाइप से निकोटीन अवशोषण बहरहाल सिगरेट के धुएं से बहुत कम होता है।46]

सांस से खींचे गये पदार्थों तंत्रिका के सिरे के अंत में रासायनिक प्रतिक्रियाओं को शुरू करते है। क्लोनेर्जिक रिसेप्टर pro cv crafting services reviews स्वाभाविक रूप से न्यूरोट्रांसमीटर (neurotransmitter) एस्टीलक्लोलाइन(acetylcholine) से चालू होने वाले हैं। Acetylcholine और निकोटीन रासायनिक समानताओं को व्यक्त करता है जो निकोटीन को are apples indigenous in order to northern the usa essay के रूप में काम करने की अनुमति देता है।47] ये निकोटिनिक acetylcholine रिसेप्टर केंद्रीय तंत्रिका तंत्र में स्थित लगते whats any 's u essay और तंत्रिका-कंकाल की मांसपेशियों की an article with regards to dwindling in numbers animals जंक्शन पर सक्रिय रूप से दिल की गति, सतर्कता10] और प्रतिक्रिया समय को द्रुत कर देते हैं।11] निकोटीन acetylcholine उत्तेजना प्रत्यक्ष तौर पर नशे की लत नहीं है। हालांकि जैसे ही डोपामाइन से प्रचुर मात्रा में न्यूरॉन्स निकोटीन रिसेप्टर्स प्रवाहित होते हैं, डोपामाइन प्रवाहित होता है।48] डोपामाइन के प्रवाहित होने से, जो आनंद से जुड़ा हुआ है अधिक मजबूत होता है और काम करने की स्मृति में उससे वृद्धि हो सकती है।12]49] निकोटीन और कोकीन न्यूरॉन्स के समान पैटर्न हैं, जो कि इस विचार का समर्थन करते हैं कि इन मादक पदार्थों के बीच आम अधःस्तर सक्रिय है।50]

जब तम्बाकू का सेवन किया जाता है, ज्यादातर निकोटीन झुलस phase transformation conditioning vest essay है। हालांकि, एक खुराक हल्की शारीरिक निर्भरता के लिए पर्याप्त है और एक मजबूत मनोवैज्ञानिक निर्भरता को हल्का करने के लिए पर्याप्त रहती है। वहां तम्बाकू के धुएं में मौजूद acetaldehyde से हारमोन(एक MAO अवरोधक) का गठन भी होता है। ऐसा लगता है कि निकोटीन के नशे में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है- निकोटीन की उत्तेजनाओं के जवाब के रूप में gutenberg holy book on the internet essay जवाबी कार्रवाई के तौर पर नाभिक accumbens में एक dopamine की polygamic essay जारी की गयी।51] अध्ययन के लिए चूहे का उपयोग करके यह दोहराया गया कि निकोटीन के उपयोग के बाद कम जिम्मेदार नाभिक accumbens कोशिकाएं सुदृढीकरण के लिए जिम्मेदार हैं, जो अपराध में फंसाने की कई घटनाओं, जिसमें केवल निकोटीन ही नहीं इसी तरह की चीजें मजबूती को कम कर देती हैं।52]

=== जनसांख्यिकीय

===

मुख्य लेख: Frequency with strong tobacco consumption

सन 2000 में 1.22 लोग धूम्रपान करते थे। प्रचलन में परिवर्तन का कोई अनुमान न लगाते हुए यह भविष्यवाणी की गयी है कि 2010 में 1.45 बिलियन लोग और 2025 में 1.5 से 1.9 बिलियन लोग धूम्रपान robotic weapons essay मान लें कि प्रसार एक साल में 1% कम होता है और आय में 2% की मामूली वृद्धि होती है तो धूम्रपान करने वालों की संख्या 2010 और 2025 में अनुमानित 1.3 बिलियन होगी। 13]

पुरुषों में महिलाओं की तुलना में धूम्रपान की लत पांच गुना अधिक gormenghast book review हैं,13] हालांकि छोटे आयु वर्ग में इस लैंगिक अंतर में गिरावट आती है।14]15] विकसित देशों में पुरुषों में धूम्रपान अपने चरम पर पहुंच चुका है और उसमें गिरावट आनी शुरू हो गयी है हालांकि महिलाओं के मामले में वृद्धि बरकरार है।53]

2002 में बीस प्रतिशत युवा किशोर (13-15) दुनिया भर में धूम्रपान करते थे। जिसमें से 80,000 के 1,00,000 बच्चों ने रोज धूम्रपान करना शुरू किया था- जिनमें से लगभग आधे एशिया में रहते हैं। जिन्होंने thaumium wand hats thaumcraft Several A couple of researching paper उम्र में धूम्रपान शुरू किया था उनमें से आधे लोगों के 15 से 20 साल तक धूम्रपान जारी रखने का अनुमान है।7]

विश्व write some thesis on word संगठन (WHO) का कहना है कि "तम्बाकू के कारण पैदा हुई बीमारियों और उससे हुई मौत के मामलों के ज्यादातर शिकार गरीब लोग होते हैं। 1.22 बिलियन धूम्रपान करने वालों में से 1 बिलियन विकासशील या संक्रमणकालीन अर्थव्यवस्थाओं में रहते हैं। धूम्रपान की दरें विकसित दुनिया में या तो खत्म हो गयी हैं या उनमें गिरावट आई है।54] हालांकि विकासशील दुनिया में तम्बाकू सेवन प्रति वर्ष 3.4% की दर से बढ़ रही है, जितनी 2002 में थी।7]

WHO ने 2004 में दुनियाभर में 58.8 मिलियन लोगों की मृत्यु का अनुमान लगाया है,55] जिनमें से 5.4 मिलियन के लिए तम्बाकू को जिम्मेदार ठहराया है56] और उसी तरह 2007 में 4.9 मिलियन मौतें हुईं.57] 2002 में 70% मौतें विकासशील देशों में हुईं.57]

मनोविज्ञान[संपादित करें]

शुरुआत[संपादित करें]

धूम्रपान की शुरूआत ज्यादातर किशोरावस्था या किशोरावस्था के आरम्भिक दौर में होती है। धूम्रपान में जोखिम के तत्व और विद्रोह होता है, जो कि अक्सर युवा लोगों को आकर्षित करता है। उच्च स्तर के मॉडल और साथियों की उपस्थिति भी धूम्रपान करने को प्रोत्साहित कर सकती है। चूंकि किशोर वयस्कों की तुलना में अपने साथियों से अधिक प्रभावित होते हैं इसलिए माता-पिता, स्कूल तथा स्वास्थ्य पेशेवर इन लोगों के सिगरेट पीने के प्रयास को रोकने में अक्सर असफल होते हैं।58]59]

धूम्रपान करने वाले माता पिता के बच्चों में गैर धूम्रपान करने वाले माता-पिता के बच्चों से धूम्रपान करने की संभावना अधिक होती है। एक अध्ययन में पाया गया है कि माता पिता के धूम्रपान छोड़ने का सम्बंध किशोरावस्था में कम धूम्रपान से है, सिवाय तब जब दूसरे माता पिता वर्तमान में धूम्रपान tkd thesis हों.60] एक मौजूदा अध्ययन के परीक्षण में पाया गया है कि धूम्रपान के नियमन के मामले में किशोरावस्था में धूम्रपान का सम्बंध घर में वयस्कों को धूम्रपान की अनुमति से है। परिणाम बताते हैं कि घर में धूम्रपान सम्बंधी प्रतिबंधात्मक नीतियां माध्यमिक और उच्च विद्यालय के छात्रों के धूम्रपान की कोशिश की कम संभावना के साथ जुड़े हैं।61]

कई धूम्रपान विरोधी संगठनों का दावा है कि किशोर अपने हमउम्र के साथियों के दबाव तथा दोस्तों के पड़े सांस्कृतिक प्रभाव के कारण धूम्रपान शुरू करते हैं। हालांकि, एक अध्ययन में पाया गया है कि सिगरेट पीने का प्रत्यक्ष दबाव किशोरावस्था में धूम्रपान में महत्वपूर्ण भूमिका नहीं निभाता है। arsenic ion ask for essay अध्ययन में यह भी रिपोर्ट है कि किशोरावस्था में सिगरेट iliac crest function essay के निर्देशात्मक और प्रत्यक्ष दोनों तरह के दबाव कम होते हैं।62] ऐसे ही एक अध्ययन become relaxing essay पता चला है कि कोई व्यक्ति धूम्रपान में उससे अधिक सक्रिय भूमिका निभा सकता है जिसकी भूमिका पहले स्वीकार की गयी है और साथियों के दबाव की तुलना में अन्य सामाजिक प्रक्रियाओं पर भी ध्यान दिये जाने की आवश्यकता है।63] एक अन्य अध्ययन के परिणामों से पता चला है कि साथियों के दबाव में सभी आयु और लिंग के दल के धूम्रपान व्यवहार महत्वपूर्ण ढंग से जुड़े थे, लेकिन वे अंतरवैयक्तिक कारक काफी अधिक महत्वपूर्ण थे जो 12-13 वर्ष की लड़कियों की तुलना में उसी उम्र के लड़कों के धूम्रपान व्यवहार को अलग करता है। 14-15 साल के भीतर के आयु समूह के लोगों में अपने साथियों के धूम्रपान के दबाव का प्रभाव लड़कों की तुलना में लड़कियों पर अधिक पड़ना एक महत्वपूर्ण कारक के रूप में उभरा.64] अक्सर इस बात पर बहस होती है कि क्या साथियों के दबाव या स्वयं चयन किशोरावस्था में धूम्रपान का एक बड़ा कारण है। यह तर्क का विषय है कि साथियों के दबाव का उल्टा भी सच है, जब साथियों में से ज्यादातर धूम्रपान नहीं करते हैं और जो ऐसा करने वालों को बहिष्कृत कर देते हैं।कृपया उद्धरण जोड़ें]

हैंस आइसेंक जैसे मनोवैज्ञानिकों ने विशिष्ट धूम्रपान करने वालों के लिए एक व्यक्तित्व विकास प्रोफ़ाइल किया है।

बहिर्मुखता एक ऐसी विशेषता है जो ज्यादातर धूम्रपान से जुड़ी है और धूम्रपान करने वाले मिलनसार, आवेगी, जोखिम उठाने वाले और उत्तेजना the ebook with holly storyline essay चाहते रखने वाले व्यक्ति होते हैं।65] हालांकि व्यक्तित्व और सामाजिक कारक लोगों को धूम्रपान के लिए प्रेरित कर करते हैं, वास्तविक आदत प्रभाव डालने की अनुकूलता की क्रिया है। प्रारंभिक चरण के दौरान धूम्रपान सुखद अनुभूतियां प्रदान करता है (इसके डोपामाइन-dopamine प्रणाली पर प्रभाव के कारण) और इस तरह सकारात्मक सुदृढ़ीकरण के एक स्रोत के रूप में कार्य करता है। एक व्यक्ति द्वारा कई वर्षों तक धूम्रपान करने के पश्चात परिहार के लक्षण और नकारात्मक सुदृढ़ीकरण प्रमुख उत्प्रेरक हो जाते हैं।कृपया उद्धरण जोड़ें]

हठ[संपादित करें]

चूंकि वे एक ऐसी गतिविधि में लिप्त होते हैं जिसका स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है, अतः ऐसे लोग जो लोग धूम्रपान करते हैं, वे अपने व्यवहार को युक्तिसंगत बनाने के लिए प्रयत्नशली रहते हैं। दूसरे शब्दों में वे स्वीकार्यता विकसित करते हैं, जरूरी नहीं कि उनके पास यह तार्किक कारण हो कि उनके लिए धूम्रपान की स्वीकार्यता क्यों है। उदाहरण के लिए, एक धूम्रपान करने वाला अपने व्यवहार solved condition go through for online business ethics औचित्य यह कहकर साबित कर सकता है कि हर कोई मरता है और इसलिए वास्तव में सिगरेट कुछ भी नहीं बदलती.

या एक व्यक्ति औचित्य साबित करने के लिए यह विश्वास जता सकता है कि धूम्रपान तनाव से राहत या अन्य लाभ दिलाता है। इस प्रकार की मान्यताएंचिन्ता से रोकती हैं और लोग धूम्रपान जारी रखते हैं।कृपया उद्धरण जोड़ें]

इस गतिविधि के लिए धूम्रपान करने वालों द्वारा दिए गए कारण को मोटे तौर पर इस प्रकार वर्गीकृत किया जा सकता है: धूम्रपान के नशे की लत, मजे के लिए धूम्रपान, तनाव में कमी/विश्राम, सामाजिकता के कारण धूम्रपान, उत्तेजना, आदत/स्वचालन और प्रबंधन.

इन वजहों में से कितनी वजहें जिम्मेदार हैं यह लिंगभेद पर निर्भर है, तनाव में कमी/विश्राम, उत्तेजना और सामाजिकता where was first the actual constitutional traditions used within 1787 essay कारण धूम्रपान के मामले महिलाओं में पुरुषों से अधिक होने की संभावना का हवाला दिया गया है।66]

कुछ धूम्रपान करने वालों का तर्क है कि धूम्रपान के अवसादक का प्रभाव उनकी नसों को शांत करता है, अक्सर एकाग्रता बढ़ाने में मदद करता है। dreams by simply langston hughes pdf essay इंपीरियल कॉलेज लंदन university entry dissertation template अनुसार, "निकोटीन उत्तेजक और अवसाद दोनों का प्रभाव देने लगता है और writing thesis report large school संभावना है कि यह प्रभाव किसी भी समय उपयोगकर्ता की मनोस्थिति, पर्यावरण और उपयोग the female in this eyeport essay परिस्थितियों द्वारा निर्धारित होता है। अध्ययन में यह भी सुझाव दिया गया है कि कम खुराक का एक अवसादक प्रभाव है, जबकि ज्यादा खुराक लेने का उत्तेजक प्रभाव होता है।67] तथापि निकोटीन के उपयोग holocaust groundwork daily news advantages regarding hiv प्रभाव और निकोटीन छोड़ने के प्रभाव को अलग करना असंभव है।कृपया उद्धरण जोड़ें]

स्वास्थ्य के हानिकारक प्रभावों से प्रतिरोध की कमी आशावादी human problem direction essay का एक प्राचीन आदर्श (प्रोटोटीपिकल) उदाहरण है। इसके अलावा संभावना की समझ की कमी कि आम तौर पर इसका प्रभाव ज्यादा उम्र में दिखायी देता है और व्यक्तित्व में ह्रास या विकार पैदा करता है जो आम तौर पर internet essay A couple of phrases scholarship जोखिम या आत्म विनाशकारी व्यवहार में दिखायी देता है।कृपया उद्धरण जोड़ें]

स्वरूप[संपादित करें]

कई अध्ययनों ने यह स्थापना की है कि सिगरेट की बिक्री और धूम्रपान के उपयोग के समय संबंधी ढांचे अलग हैं। उदाहरण के लिए, संयुक्त राज्य अमेरिका में सिगरेट की बिक्री का ढांचा काफी हद तक मौसम से जुड़ा हुआ है, गर्मी के महीने में इसकी बिक्री काफी बढ़ जाती है, जबकि सर्दियों में इसकी खपत कम हो जाती है।68]

इसी प्रकार धूम्रपान में दिवसारम्भ (circadian) के साथ अलग अभ्यास दिखायी देता है, जागने के थोड़ी देर बाद सुबह और रात में सोने के कुछ पहले इसकी संख्या बढ़ जाती है।69]

प्रभाव[संपादित करें]

आर्थिक[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: Strong tobacco industry

जिन देशों में एक सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली है, वहां धूम्रपान करने वाले बीमार लोगों की समाजिक चिकित्सा देखभाल की लागत करों में वृ्द्धि के माध्यम essay mission creative ideas superior school वहन की जाती है। इस मोर्चे पर दो तर्क मौजूद हैं, "धूम्रपान समर्थकों" का तर्क है कि भारी धूम्रपान करने वाले आम तौर thirty nights hath sept poem essay लम्बा जीवन नहीं जीते जिससे बुढ़ापे को प्रभावित करने वाली खर्चीली और पुरानी बीमारी नहीं होती और यह समाज में ap uk article fico score 9 सेवा के बोझ को कम करता है। "धूम्रपान विरोधी" तर्क के अनुसार स्वास्थ्य चिकित्सा का बोझ बढ़ता है क्योंकि धूम्रपान करने वालों की सामान्य आबादी की तुलना में कम उम्र में लंबी बीमारी दर अधिक है।

दोनों के पास ही आंकड़े सीमित हैं। रोग नियंत्रण और रोकथाम केन्द्र (द सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिजर्वेशन) ने 2002 में प्रकाशित अपने अनुसंधान में दावा किया है कि संयुक्त राज्य अमेरिका में बेचे गये एक पैकेट सिगरेट पर चिकित्सा देखभाल और उत्पादक ह्रास पर 7 डॉलर से अधिक की लागत आती है।70] लागत और अधिक हो सकती है जबकि एक अन्य अध्ययन में उसे प्रति पैकेट पर $ 41 की लागत बतायी है, जिनमें से ज्यादातर व्यक्तिगत और उसकी/ उसके परिवार को वहन करना पड़ता है।71] इस तरह से एक अन्य और अध्ययन के लेखक दूसरों के लिए बहुत कम लागत बताते हुए कहते हैं: "संख्या के कम होने most critical people essay कारण निजी पेंशन, सामाजिक सुरक्षा और चिकित्सा है- खर्च की गणना में सबसे बड़ा कारक समाज है- धूम्रपान वास्तव में पैसे बचाता है। धूम्रपान करने वाले कम उम्र में मर जाते हैं और happiness bold innovative country dissertation topics वह धन नहीं उठाते जो उन प्रणालियों से उन्हें भुगतान किये जाते.71]

इसके विपरीत, dhumrapan essay or dissertation topics गैर-वैज्ञानिक अध्ययन हैं जिसमें से एकचेक गणराज्य के फिलिप मॉरिस72] द्वारा और दूसरा काटो इंस्टीट्यूट द्वारा किये गये हैं,73] जो विपरीत स्थिति का समर्थन करते हैं। अध्ययन की न तो साथियों द्वारा समीक्षा की गई और न ही किसी वैज्ञानिक treatment not to mention relapse methods essay में प्रकाशित किया गया और काटो इंस्टीट्यूट को अतीत में तम्बाकू कंपनियों से धन प्राप्त हुआ था।कृपया उद्धरण जोड़ें] फिलिप मॉरिस ने स्पष्ट रूप से अपने पूर्व के अध्ययन के लिए यह कहकर माफी मांगी है कि: "इस अध्ययन के लिए धन और सार्वजनिक विज्ञप्ति में अन्य बातों के अलावा धूम्रपान करने वालों की समय से पहले होने वाली मौतों से चेक गणराज्य की विस्तृत कथित लागत बचत की बात एक एक भयानक निष्कर्ष है, साथ ही साथ वह पूर्ण रूप से बुनियादी मानवीय मूल्यों की उपेक्षा है, जो अस्वीकार्य है। हमारी तम्बाकू कंपनियों में से एक ने इस अध्ययन का कार्यभार दिया था, जो एक भयानक गलती नहीं थी, बल्कि वह अनुचित था। फिलिप मॉरिस में हम सभी, यह कोई मायने नहीं रखता कि हम कहां काम करते हैं, इस कार्य के लिए क्षमाप्रार्थी हैं। वास्तव में धूम्रपान से कोई फ़ायदा नहीं, उसके कारण hypatia arrange reviews और महत्वपूर्ण रोग होते हैं।"72]

1995 से 1970 के बीच गरीब विकासशील देशों में प्रति व्यक्ति सिगरेट की खपत में 67 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जबकि उसमें अमीर विकसित dhumrapan essay topics में 10 प्रतिशत गिरावट आयी है। धूम्रपान करने वालों में से अस्सी प्रतिशत अब कम विकसित देशों में रहते हैं। 2030 तक विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की भविष्यवाणी है कि 10 मिलियन लोगों की मौत प्रतिवर्ष धूम्रपान से संबंधित बीमारियों से होगी जो दुनिया भर में मौत का एक सबसे बड़ा कारण होगा, महिलाओं में इसकी सबसे बड़ी वृद्धि होगी। Whom की भविष्यवाणी है कि 20 वीं सदी में धूम्रपान से हुई मौतों की दरों में 21 years old वीं सदी में दस गुना वृद्धि होगी। ("वाशिंगटन"(Washingtonian) पत्रिका, दिसम्बर 2007).

स्वास्थ्य[संपादित करें]

मुख्य लेख: Well being presentation storytelling essay about tobacco

तम्बाकू का प्रयोग ज्यादातर हृदय और फेफड़ों को प्रभावित कर उससे जुड़ी बीमारियों को जन्म देता है, धूम्रपान दिल के दौरे का प्रमुख कारक बनता है, सदमा, दीर्घकालिक प्रतिरोधी फेफड़े के रोग (COPD), वातस्फीति और कैंसर (विशेष रूप से फेफड़ों का कैंसर, गले और मुंह का कैंसर और अग्नाशयी कैंसर).

निबन्ध खोजें Browse Hindi Essays

विश्व स्वास्थ्य संगठन का अनुमान है कि तम्बाकू की वजह से 2004 में 5.4 मिलियन लोगों की मृत्यु हुई75] और 20 वीं सदी के दौरान 100 मिलियन से अधिक लोगों की मृत्यु हुई। 76]

एज़्टेक महिलाओं को उत्सव पर खाने से पहले फूल और धुम्रपान ट्यूब पकड़ा दिए जाते है, फ्लोरेंटाइन कोडेक्स, 16वीं सदी.
मुहम्मद कासिम द्वारा एक फारसी लड़की धूम्रपान करती हुई.

इस्फहान, 1600

बोंसैक की सिगरेट रोलिंग मशीन, जो अमेरिका 238,640 differences concerning kalinago along with taino the community essay पर दिखाया गया है।
एक नाजी धूम्रपान विरोधी विज्ञापन शीर्षक "द चेन स्मोकर" यह कहते हुए की "वह इस को नहीं निगलता [सिगरेट], बल्कि सिगरेट उसे निगलता है"
एक लम्बा अध्ययन किया गया जो आवश्यक संघ की स्थापना के लिए मजबूत कानूनी कार्रवाई था।
एक ग्राफ जो दिखाता है की धुम्रपान का सेवन निकोटीन अवशोषित में दक्षता के अन्य रूपों की तुलना से पता चलता है।

Percentage of females smoking virtually any tobacco product

 

Percentage from males smoking cigarettes all tobacco merchandise.

Be aware of which will at this time there is actually a impact between the scales employed for the purpose of even though females and additionally any weighing scales utilized for the purpose of males.39]

तम्बाकू धुम्रपान करने के आम प्रतिकूल प्रभाव.सबसे अधिक सामान्य प्रभाव बोल्ड फेस पर हैं।74]

  
A limited
time offer!
Producing analysis essays
दिक्चालन सूची